News Home » Asia » SPG कमांडोज का ड्रेस अलाउंस तीन गुना बढ़ा, अब 9 की जगह 27 हजार रुपए मिलेंगे

Around the World

SPG कमांडोज का ड्रेस अलाउंस तीन गुना बढ़ा, अब 9 की जगह 27 हजार रुपए मिलेंगे

Inbooker 5 Oct 9
नई दिल्ली.केंद्र सरकार ने सेवंथ सेंट्रल पे कमीशन की सिफारिशों पर अमल करते हुए डिप्लोमैट्स और एलीट स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप (SPG) का ड्रेस अलाउंस बढ़ा दिया है। नरेंद्र मोदी, सोनिया गांधी और पूर्व पीएम मनमोहन सिंह समेत कई वीवीआईपीज की सिक्युरिटी का जिम्मा एसपीजी के पास ही है। पहले इसके कमांडोज को ड्रेस अलाउंस के तौर पर 9 हजार रुपए मिलते थे। अब यह अलाउंस बढ़ाकर 27, 800 रुपए सालाना कर दिया गया है। डिप्लोमैट्स के ड्रेस अलाउंस में भी कैटेगरी के हिसाब से बढ़ोतरी की गई है।एसपीजी में भी दो कैटेगरी....
- न्यूज एजेंसी के मुताबकि, एसपीजी अफसरों को दो कैटेगरीज में बांटा गया है। ऑपरेशनल और नॉन ऑपरेशनल। ऑपरेशनल ड्यूटी पर तैनात अफसरों को अब 27,800 जबकि नॉन ऑपरेशनल अफसरों को 21,225 रुपए हर साल बतौर ड्रेस अलाउंस मिलेंगे। इसके लिए ऑर्डर जारी कर दिए गए हैं। पहले यह अलाउंस 9 हजार रुपए सालाना था।

- सेवंथ पे कमीशन की सिफारिशों की जांच कमेटी ऑन अलांसेस के हेड अशोक लवासा ने की। लवासा फाइनेंस सेक्रेटरी भी हैं।

196 अलाउंसेस की जांच की थी पे कमीशन ने - सेवंथ सेंट्रल पे कमीशन ने अलग-अलग कैटेगरीज में मिलने वाले 196 अलाउंसेस की जांच की थी। फाइनेंस मिनिस्ट्री के एक ऑर्डर में कहा गया है- इंडियन फॉरेन सर्विस (IFS) के अफसरों का आउटफिट अलाउंस 50% बढ़ाया गया है। - फिलहाल, IFS अफसरों को हर पोस्टिंग पर 5,625 से 10,625 रुपए आउटफिट अलाउंस मिलता है। यह उनके ग्रेड पर डिपेंड करता है। - इंडियन आर्मी, एयर फोर्स, नेवी, सेंट्रल आर्म्ड पुलिस फोर्सेस और कोस्ट गार्ड के अफसरों को हर साल ड्रेस अलाउंस के तौर पर 20 हजार रुपए मिलते हैं।

- मिलिट्री नर्सिंग सर्विस के अफसरों और दिल्ली, अंडमान और निकोबार आईलैंड्स, लक्षद्वीप और दादरा-नागर हवेली पुलिस सर्विसेस को सालाना 15 हजार रुपए ड्रेस अलाउंस के तौर पर मिलते हैं।

कुछ और सर्विसेस में ड्रेस अलाउंस - कस्टम्स, इंडियन कॉर्पोरेट लॉ सर्विसेस ऑफिसर्स, एनआईए के लीगल ऑफिसर्स और बाकी कुछ सर्विसेस के अफसरों को 10 हजार रुपए सालाना ड्रेस अलाउंस मिलता है।

- इनके अलावा एेसे इम्प्लॉईज जिन्हें ड्यूटी पर यूनिफॉर्म में ही रहना जरूरी होता है, को पांच हजार रुपए सालाना ड्रेस अलाउंस दिया जाता है। इनमें रेलवे के ट्रैक मैन और स्टाफ कार ड्राइवर शामिल हैं। नर्सों को अब 750 की जगह 1800 रुपए महीना ड्रेस अलाउंस दिया जाएगा।