News Home » Madhya Pradesh » सागर की खुरई कोर्ट में लोक अभियोजक की तत्काल करो नियुक्ति

सागर की खुरई कोर्ट में लोक अभियोजक की तत्काल करो नियुक्ति

कोर्ट ने वर्मा को हायर कोर्ट में अपील के लिए एक महीने की जमानत दी है। (सिम्बॉलिक)

देहरादून. यहां के एक मशहूर ज्वेलरी शॉप ओनर को स्विस बैंक में अपना अकाउंट होने की जानकारी छिपाने के जुर्म मंे दो साल जेल की सख्त सजा सुनाई गई है। उसने यह जानकारी आईटी डिपार्टमेंट से छिपाई थी। 25000 जुर्माना भी लगाया गया...

- चीफ ज्युडिशियल मजिस्ट्रेट की कोर्ट ने पंजाब ज्वेलर्स के ओनर राजू वर्मा पर 25000 हजार रुपए का जुर्माना भी लगाया है। - कोर्ट ने अपने फैसले में कहा कि 14 मार्च 2012 को पंजाब ज्वैलर्स के खिलाफ सर्च की कार्रवाई की गई। उस दौरान राजू ने जेनेवा में मौजूद अपने एचएसबीसी बैंक एकाउंट की जानकारी नहीं दी । - इनकम टैक्स (आईटी) डिपार्टमेंट ने पाया कि राजू के बैंक अकाउंट में 92 लाख रुपए थे।

- बाद में उसे इनकम टैक्स एक्ट 1961 के सेक्शन 276 (1) (इरादतन टैक्स बचाना) और सेक्शन 277 (जांच में गलत बयान देना) के तहत दोषी पाया गया।

16 आरोपी अरेस्ट - हालांकि, कोर्ट ने वर्मा को हायर कोर्ट में अपील के लिए एक महीने की जमानत दी है। - इस मामले में 16 दूसरे आरोपियों को भी अरेस्ट किया गया है। - आईटी डिपार्टमेंट को 2012 में शिकायत मिली थी कि वर्मा का स्विट्जरलैंड में पर्सनल अकाउंट है, जिसके बारे में उसने आईटी डिपार्टमेंट को नहीं बताया है।

- प्रॉसिक्यूशन ने कहा, "आईटी ऑफिशियल्स ने 14 मार्च 2012 को कर्जन रोड स्थित राजू के घर पर छापा मारा था था और बैंक डिटेल से जुड़े दस्तावेज बरामद किए।"

Web Title: jeweller gets two year imprisonment not disclosing swiss account
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।