सोमवती अमावस्या

  • इस वर्ष श्रावण मास में भी सोमवती अमावस्या का योग बन रहा है, और वह विशेष दिन 20 जुलाई 2020 सोमवार को पड़ रहा है, जो अत्यंत फलदायी माना जा रहा है। ध्यातव्य यह भी है कि इस वर्ष श्रावण मास सोमवार से शुरू होकर सोमवार को ही समाप्त हो रहा है और श्रावण मास में पांच सोमवार का विशिष्ट योग बन रहा है। इस वर्ष 2020 ईस्वी में श्रावण मास में दो सोमवार को विशेष रूप से अमावस्या और पूर्णिमा पर पड़ रहे हैं। इससे पहले श्रावण मास में सोमवती अमावस्या और सोमवती पूर्णिमा का संयोग 47 वर्ष पूर्व बना था। ज्योतिषीय गणनानुसार इस वर्ष हरियाली अमावस्या के दिन चंद्र, बुध, गुरु, शुक्र और शनि ग्रह अपनी-अपनी राशियों में रहने के कारण ग्रहों की इस स्थिति का शुभ प्रभाव कई राशियों पर देखने को मिलेगा। ऐसे अवसर पर महिलाओं द्वारा तुलसी की 108 परिक्रमाएं किए जाने का विधान है। आगे अब 2024 में यह अद्भुत संयोग बनेगा। उस समय 22 जुलाई सोमवार से श्रावण मास शुरू होकर 19 अगस्त सोमवार को समाप्त होगा।

    सोमवती अमावस्या के पौराणिक सत्य को उद्घाटित करता हुआ दैनिक समाचार पत्र नया इंडिया में दिनांक- 20 जुलाई 2020 को प्रकाशित लेख